प्राकृतिक वनस्पति एवं वन्य जीव

अभ्यास
1. निम्न प्रश्नों के उत्तर दीजिए-
(क) वनस्पतियों का विकास किन दो कारकों पर अधिकतर निर्भर करता है?
उत्तरः वनस्पतियों का विकास तापमान एवं आद्रता पर निर्भर करता है।
(ख) प्राकृतिक वनस्पतियों की तीन मुख्य श्रेणियाँ कौन-सी हैं?
उत्तरः वन, घास स्थल और कटिली झाड़ियाँ प्राकृतिक वनस्पतियों की तीन मुख्य श्रेणियाँ हैं?
(ग) उष्ण कटिबंधीय सदाबहार वन के दो दृढ़ काष्ठ वाले पेड़ों के नाम बताएँ।
उत्तरः रोज़वुड एवं महोगिनी
(घ) विश्व के किस भाग में उष्णकटिबंधीय पर्णपाती वन पाए जाते हैं?
उत्तरः भारत, मध्य अमेरिका और उत्तरी आस्ट्रेलिया में उष्णकटिबंधीय पर्णपाती वन पाए जाते हैं ।
(च) नींबू-वंश (सिट्स) के फल किस जलवायु में उगाए जाते हैं?
उत्तरः भूमध्य सागरीय जलवायु जहाँ गर्मी में शुष्क गर्मी और वर्षा वाली मृदु शीत ऋतु होती है।
(छ) शंकुधारी वन के कोई चार उपयोग बताएँ ।
उत्तरः इसका प्रयोग लुगदी बनाने के लिए किया जाता है जिसका उपयोग सामान्य तथा अखबारी कागज बनाने के लिए किया जाता है
माचिस तथा पैकिंग के बक्से बनाने के लिए किया जाता है।
(ज) विश्व के किन भागों में मौसमी घासस्थल पाए जाते हैं
उत्तरः ये वन भूमध्य रेखा के किसी भी तरफ उग जाते हैं और भूमध्य रेखा के दोनों ओर से उष्णकटिबंध क्षेत्रों तक फैले होते हैं।
2. सही () उत्तर चिह्नित कीजिए-
(क) काई एवं लाइकेन पाए जाते हैं।
(i) रेगिस्तानी वनस्पति में
(ii) उष्ण कटिबंधीय सदाबहार वन में
(iii) टुंड्रा वनस्पति में

(ख) काँटेदार झाड़ियाँ मिलती है
(i) गर्म एवं आर्द्र, उष्णकटिबंधीय जलवायु में
(ii) गर्म एवं शुष्क, रेगिस्तानी जलवायु में
(iii) ठंडी ध्रुवीय जलवायु में
(ग) उष्णकटिबंधीय सदाबहार वन का एक सामान्य जानवर
(i) बंदर
(ii) जिराफ
(iii) ऊँट
(घ) शंकुधारी वन की एक महत्त्वपूर्ण वृक्ष प्रजाति
(i) रोजवुड
(ii) चीड़
(iii) सागवान
(च) स्टेपी घासस्थल पाए जाते हैं
(i) दक्षिण अफ्रीका
(ii) आस्ट्रेलिया
(iii) मध्य एशिया

3. निम्नलिखित स्तंभों को मिलाकर सही जोड़े बनाइए-
(क) वालरस- एक ध्रुवीय जानवर
(ख) देवदार का वृक्ष नरम काष्ठ पेड़
(ग) जैतून -एक निंबु-वंश (सिट्स) का फल
(घ) हाथी- उष्णकटिबंधीय पर्णपाती वन का एक जानवर
(च) कंपोस – ब्राजील के उष्णकटिबंधीय बासस्थल
(छ) डाउन – आस्ट्रेलिया का शीतोष्ण घासस्थल

4. कारण बताइए-
(क)धु्रवीय प्रदेशों में रहने वाले जानवरों की फ़र एवं त्वचा मोटी होती है।
उत्तरः इससे वे ठंडी जलवायु में सुरक्षित रहते हैं।

(ख) उष्णकटिबंधीय पर्णपाती वन, शुष्क मौसम में अपनी पत्तियाँ गिरा देते हैं।
उत्तरः इससे जल संरक्षित रहता है । इसीलिए वे ऐसा करती हैं।
(ग) वनस्पति के प्रकार एवं सघनता एक स्थान से दूसरे स्थान पर बदलती रहती है।
उत्तरः तापमान, नमी, ढाल एवं मिट्टी की मोटाई के कारण वनस्पति के प्रकार एवं सघनता एक स्थान से दूसरे स्थान पर बदलती रहती है।।

Leave a Comment